Loading Now

नाबालिग सत्रह वर्षीय लड़की का हत्यारा पिता ही निकला। पुलिस ने किया गिरफतार

नाबालिग सत्रह वर्षीय लड़की का हत्यारा पिता ही निकला। पुलिस ने किया गिरफतार

धीरेन्द्र नाथ शुक्ला ब्यूरो चीफ सिद्धार्थनगर

आज शोहरतगढ़ क्षेत्रान्तर्गत ग्राम खरगवार में संध्या पुत्री प्रह्लाद निवासी खरगवार थाना शोहरतगढ़ जनपद सिद्धार्थ नगर एसओजी व सर्विलांस सेल टीम द्वारा उक्त हत्या की घटना कारित करने वाले अभियुक्त (मृतका का पिता) को प्लाईबुड तिराहा थाना शोहरतगढ़ सेगिरफ्तार कर आवश्यक विधिक कार्यवाही करते हुए माननीय न्यायालय रवाना किया जा रहा है । अभियुक्त प्रह्लाद द्वारा बताया कि हमारी लड़की संध्या 11वीं कक्षा में शिवपति इण्टर कालेज शोहरतगढ़ में पढ़ती थी तथा हमारे ही गांव के अंकित उपाध्याय पुत्र पुरुषोत्तम उपाध्याय से बात करती थी तथा चोरी चुपके मिलती जुलती थी । एक दिन हमारी पत्नी ने दोनों को बातचीत करते हुये देखा तो मुझे बताया तब मैने अंकित व संध्या दोनों को बातचीत न करने हेतु बताया था, फिर भी हमें इधर उधर से जानकारी मिल रही थी कि हमारी लड़की अभी भी स्कूल आते-जाते अंकित उपाध्याय से मिलती जुलती व बात कर रही है जिससे हमारी समाज में बहुत बदनामी हो रही थी, अतः हमने अपनी लड़की संध्या को खत्म करने की योजना बनायी और पूर्व प्लानिंग के तहत दिनांक 09.02.2024 को अपने घर पर पत्नी को यह बताया कि मैं मुम्बई कमाने जाऊगां तो हमारी पत्नी ने सबेरे ही पराठा आदि तैयार कर दिया और मेरा लड़का साइकिल से मुझे शोहरतगढ़ रेलवे स्टेशन पर छोड़कर वापस घर चला गया । मैं शोहरतगढ़ रेलवे स्टेशन से पनवेल एक्सप्रेस का टिकट लेकर स्टेशन पर बैठा रहा परन्तु ट्रेन नहीं पकडा तथा इधर उधर घूमता रहा । समय 08 से 09 बजे के आस-पास मै चेतिया रेलवे क्रासिंग पर गया और एक ठेले पर से चावल और छोला खरीदा । छोला खा गया और चावल अपने बैग मे रख लिया । पुनः घूमते हुये वापस रेलवे स्टेशन पर आया । करीब 11 बजे अंकित उपाध्याय को भी मैने रेलवे स्टेशन पर आते हुये देखा तो मुझे लगा कि अंकित उपाध्याय फिर मेरे लड़की से मिलने रेलवे स्टेशन आया है किन्तु जब अंकित उपाध्याय मुझे देखा तो वह स्टेशन पर रुका नही और कहीं चला गया । समय करीब 12 बजे मेरी लड़की संध्या विद्यालय से वापस रेलवे स्टेशन होते हुये घर जा रही थी तो मैने उसे वहीं रोक लिया और समय पास करने तथा रात हो जाने पर ठिकाने लगाने के उद्देश्य से अपनी लड़की को लेकर चेतिया मोड़ पर गया और वहां से आटो पर बैठाकर पूजा चढ़ाने के बहाने जोगमाता मन्दिर जोगिया उदयपुर ले गया वहां अगबत्ती कपूर जलवाया तथा समय पास करने के लिये शाम तक इधर उधर घूमता रहा । पुनः वहां से अपनी लड़की को लेकर आटो से रेलवे स्टेशन नौगढ़ गया वहां से मेमो ट्रेन से रात्रि करीब 07.30 बजे शोहरतगढ़ पहुंचा और पैदल ही अपनी लड़की को लेकर गांव के पहले स्कूल के पीछे के बाग में ले गया और अपनी लडकी को समझाया कि मेरे मना करने के बाद भी तुम अंकित उपाध्याय से क्यों बात करती हो, इस पर वह कही की मै अंकित से बात करुंगी । इस पर मुझे और क्रोध आ गया और मैने अपने मफलर से उसका दोनो हाथ बांध कर अपने दोनो हाथों से उसका गला दबा कर मार दिया फिर उसके गाल पर नाखून से चिकोटी काट कर चेक किया कि कहीं व जिन्दा तो नहीं है इत्मिनान होने पर सुबह ठेले पर लिया गया चावल उसके मुंह के पास गिरा दिया ताकि लोग यह समझे कि हमारी लड़की को उसके प्रेमी द्वारा जहर देकर मार दिया गया है । उसके पश्चात मैं अपने घर न जाकर वहीं से वापस रेलवे स्टेशन शोहरतगढ आ गया और सुबह 5 बजे इण्टर सिटी ट्रेन पकड़कर ऐशबाग लखनऊ चला गया । संध्या की मृत्यु की सूचना पर मैंने अपनी पत्नी को थाने जाकर उसके प्रेमी के विरुध्द हत्या का केस दर्ज कराने को कहा तथा लखनऊ से वापस तो आ गया परन्तु घर जाने पर पकडे जाने की डर से इधर उधर छिपकर घूम रहा था कि आप लोगों द्वारा पकड लिया गया । *गिरफ्तार अभियुक्त का विवरण-*01.प्रह्लाद पुत्र स्व0 राजाराम निवासी खरगवार थाना शोहरतगढ़ जनपद सिद्धार्थनगर।*बरामदगी का विवरण-*01.घटना में प्रयुक्त मफलर (आलाकत्ल) । 02.एक अदद मोबाइल फोन ।03.आधार कार्ड ।04.रेलवे टिकट05.नगद 879 रुपये ।06.एक काले रंग पिट्ठू बैग । *गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम का विवरण-*01-प्र0नि0 राज कुमार पाण्डेय, थाना शोहरतगढ़ जनपद सिद्धार्थनगर ।02-निरीक्षक रवीन्द्र कुमार सिंह, थाना शोहरतगढ़ जनपद सिद्धार्थनगर ।03-उ0नि0 शेषनाथ यादव, प्रभारी एसओजी/स्वाट, जनपद सिद्धार्थनगर ।04-उ0नि0 सुरेन्द्र सिंह, प्रभारी सर्विलान्स सेल, जनपद सिद्धार्थनगर ।05-उ0नि0 अशोक कुमार, थाना शोहरतगढ़, जनपद सिद्धार्थनगर ।06-हे0का0 श्याम बहादुर, का0 अभिषेक यादव, कुलदीप वर्मा, थाना शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर।08-हे0का0 राजीव शुक्ला, आशुतोषधर द्विवेदी, का0 छविराज यादव, एसओजी टीम सिद्धार्थनगर 09-हे0का0 जनार्दन प्रजापति, हिन्दे आजाद, विवेक, सर्विलान्स सेल, जनपद सिद्धार्थनगर ।

Share this content:

Post Comment