Loading Now

विधायक दीपक मंगला ने बल्लभगढ़ में उपमंडल स्तरीय 75 वें गणतंत्र समारोह में किया ध्वजारोहण

विधायक दीपक मंगला ने बल्लभगढ़ में उपमंडल स्तरीय 75 वें गणतंत्र समारोह में किया ध्वजारोहण

परेड का निरीक्षण कर लोगों को किया सम्बोधित                                                                             

फरीदाबाद/ बल्लभगढ़, 26 जनवरी। पलवल के विधायक दीपक मंगला ने बल्लभगढ़ में उपमंडल स्तरीय 75 वें गणतंत्र समारोह में ध्वजारोहण कर परेड का निरीक्षण करने उपरान्त उपस्थित लोगों को सम्बोधित किया।

विधायक दीपक मंगला ने बल्लभगढ़ के दशहरा ग्राउंड में ध्वजारोहण कर उपमंडल स्तरीय 75 वें गणतंत्र समारोह में प्रशासनिक तथा पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों और समाज सेवकों को भी प्रशस्ति पत्र  सम्मानित किया।

विधायक दीपक मंगला ने कहा कि देश को आजादी दिलाने के लिए राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, लाला लाजपत राय, सरदार बल्लभ भाई पटेल, डा. राजेन्द्र प्रसाद, पंडित दीनदयाल उपाध्याय जैसे महापुरूषों और स्वतंत्रता सेनानियों ने कड़ा संघर्ष किया। वहीं शहीद भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव, चंद्र शेखर आजाद और उधम सिंह जैसे क्रांतिकारियों के बलिदानों के कारण ही आज हम खुली हवा में सांस ले रहे हैं। हमारे महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों ने भारत में ‘‘पूर्ण स्वराज‘‘ के लिए लम्बे समय तक संघर्ष किया है। उन्होंने ऐसा इसलिए किया ताकि उनकी आने वाली पीढ़ियां किसी की गुलाम बनकर न रहे और स्वतंत्र रूप से अपने अधिकारों का निर्वहन कर सके। हमारे देश के गणतंत्र ने देशवासियों को सामाजिक समरसता तथा जनप्रतिनिधित्व का अधिकार दिया है। स्वतंत्रता के बाद से ही भारत दुनिया में एक बड़ी ताकत के तौरपर अपनी पहचान बनाने में कामयाब रहा है। इसका श्रेय हमारे उन राजनेताओं को, यहां के कर्मठ किसान-मजदूरों को, कारीगरों को तथा साईंस दानों को जाता है। जिन्होंने दिन-रात एक करके इस देश को विकास की गति प्रदान की।

विधायक ने अपने सम्बोधन में कहा कि 74 वर्ष पहले सन 1950 में आज ही के दिन हमारा संविधान लागू हुआ था। इसी संविधान के कारण हम सभी को समान न्याय, स्वतंत्रता एवं समानता का अधिकार मिला। आज इस अवसर पर बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर सहित संविधान सभा के तमाम सदस्यों को नमन करती हूँ। आज का यह ऐतिहासिक दिन देषवासियों को एक मजबूत राष्ट्र के रूप में आगे बढ़ने के लिए साहस और प्रेरणा देता है। इस दिन हम उन महापुरुषों को भी याद करते हैं, जिन्होंने भारत को स्वतंत्रता दिलवाने और भारतीय संविधान को लागू करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इनकी बदौलत ही भारत आज एक गणराज्य देश कहलाता है।

आज हमारा भारत देश प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में चहुंमुखी प्रगति कर रहा है।                                                                                                                                                                                                                    

प्रभु श्री राम मंदिर का उद्घाटन

भाईयों व बहनों सदियों की प्रतीक्षा और सदियों का अभूतपूर्व धैर्य, अनगिनत बलिदान, त्याग और तपस्या के बाद हमारे प्रभु श्री राम का मंदिर अयोध्या में स्थापित हुआ है। हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के प्रयासों के फलस्वरूप 22 जनवरी, 2024 का सूरज देश में एक अद्भुत आभा लेकर आया है। इस दिन अयोध्या में राम मंदिर के भूमिपूजन के बाद से प्रतिदिन पूरे देश में उमंग और उत्साह बढ़ता ही जा रहा है। भगवान राम के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम से देशवासियों को सदियों के धैर्य की धरोहर के रूप में श्रीराम का मंदिर मिला है। राम के इस काम में कितने ही लोगों ने त्याग और तपस्या की पराकाष्ठा दिखाई है। हम सब उन अनगिनत राम भक्तों के, उन अनगिनत कारसेवकों के और उन अनगिनत संत महात्माओं के भी ऋणी हैं।

उन्होंने कहा कि देश की प्रगति के इस सफर में हरियाणा का भी महत्वपूर्ण योगदान है। मुझे यह कहते हुए गर्व है कि हरियाणा ने भी प्रदेश के सामाजिक-

आर्थिक विकास को नए आयाम प्रदान किये हैं। शिक्षा, स्वास्थ्य एवं खेलों में हमने नई ऊंचाइयों को छूआ है। हमारी कितनी ही नीतियों  और योजनाओं का देश के दूसरे राज्य अनुसरण कर रहे हैं।                                                                                                                                                                                                         

आज भी हरियाणा के नौजवान सेना में भर्ती होना अपनी शान समझते हैं। यही कारण है कि आज भारतीय सेना का हर दसवां जवान हरियाणा प्रदेश से है। हम अपने शहीदों के बलिदानों का कर्ज तो नहीं चुका सकते, लेकिन उनके परिजनों की देखभाल करके उनके प्रति सम्मान अवश्य जता सकते हैं। इस दिशा में हमने ‘सैनिक व अर्ध-सैनिक कल्याण विभाग‘ का गठन किया है। देश की सीमाओं की सुरक्षा करने वाले वीर सैनिकों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करता हूँ। हमारी सरकार ने युद्ध के दौरान शहीद हुए हरियाणा के सैनिकों और अर्ध-सैनिक बलों के जवानों की अनुग्रह राशि 20 लाख रुपये से बढ़ाकर 50 लाख रुपये कर दी है। इसी प्रकार, आई.ई.डी. बलास्ट में षहीद होने पर भी अनुग्रह राशि 20 लाख रुपये से बढ़ाकर 50 लाख रुपये की गई है। अब तक शहीदों के 367 आश्रितों को अनुकम्पा के आधार पर नौकरी भी प्रदान की गई है।

उन्होंने कहा कि ‘सुशासन से सेवा’ के संकल्प के साथ जनसेवा का दायित्व संभालने वाली वर्तमान सरकार ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के ‘सबका साथ-सबका विकास’ और ‘हरियाणा एक-हरियाणवी एक’ के मूलमंत्र पर चलते हुए समस्त हरियाणा और प्रत्येक हरियाणवी की तरक्की और उत्थान के लिए निरंतर कार्य किया है। वर्ष 2024 को ’संकल्प से परिणाम’ वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है।                                                                                                                                                                                                                                             

उन्होंने कहा कि  प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की अगुवाई में आज भारत के विकास का अमृतकाल है। आज देश-प्रदेश का युवा शक्ति की पूंजी से भरा हुआ है, ऊर्जा से भरा हुआ है। ऐसी सकारात्मक परिस्थितियां, फिर ना जाने कितने समय बाद बनेंगी। हमें अब चूकना नहीं है, हमें अब बैठना नहीं है। आने वाला समय अब सफलता का है। आने वाला समय अब सिद्धि का है। ये भारत का समय है और भारत अब तेजी से आगे बढ़ने वाला है।                                                                                                                                                                                               

हम सबको यह प्रतिज्ञा करनी होगी कि हमें भी अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए आने वाली पीढ़ियों के लिए बेहतर भविष्य बनाना होगा। हम मिलकर भारत देश को एक मजबूत राष्ट्र बनाएंगे। हम सब मिलकर सशक्त भारत विकसित भारत का निर्माण करेंगे। सभी नागरिकों को संविधान के प्रति सजग करेंगे और सबको समान रूप से जीने का अवसर प्रदान करेंगे।

उप मण्डल स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह में स्कूली विद्यार्थियों द्वारा मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी गई।                                                                                                              

इस अवसर पर एसडीएम त्रिलोक चंद, भाजपा नेता टीपर चंद शर्मा सहित स्वतंत्रता सेनानियों, शहीदों के परिवार जन और अधिकारी, कर्मचारी अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे हैं।                                                                                                               

Share this content:

Previous post

आजादी का पचहत्तरवें गणतंत्र दिवस को खूब हर्षोल्लास पूर्वक मनाया गया जिसमें मुख्य रूप से पुलिस अधीक्षक प्राची सिंह ने भी हिस्सा लिया

Next post

एसओजी प्रभारी व थाना प्रभारी बांसी के द्वारा अन्तर्जनपदीय तस्करी करने वाले को गिरफतार किया 33 किलो ग्राम गांजा कीमत लगभग 3.5लाख

Post Comment